हेलिकॉप्टर दुर्घटना पीड़ितों के शव सुलूर एयरफोर्स स्टेशन ले जाया गया

चेन्नई, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। कुन्नूर के पास कटेरी पार्क में बुधवार को एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 सशस्त्र कर्मियों सहित 13 लोगों के शवों को वेलिंगटन के मद्रास रेजिमेंटल सेंटर (एमआरसी) से एयरफोर्स स्टेशन भेज दिया गया है।

एमआरसी वेलिंगटन से सुलूर वायु सेना स्टेशन की दूरी 87 किमी है और परिवहन के दौरान किसी भी व्यवधान को रोकने के लिए सड़क यातायात को डायवर्ट किया गया।

शवों को सुलूर एयरफोर्स स्टेशन से दुर्घटना पीड़ितों के संबंधित मूल स्थानों पर ले जाया जाएगा। जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के पार्थिव शरीर को नई दिल्ली ले जाया जाएगा और कामराज मार्ग स्थित उनके आधिकारिक आवास पर रखा जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, अन्य राजनीतिक नेताओं और सशस्त्र बलों के जवानों के दिल्ली में जनरल रावत को अंतिम सम्मान देने की उम्मीद है।

रक्षा मंत्री पहले ही संसद में घोषणा कर चुके हैं कि हवाई दुर्घटना में मारे गए सभी लोगों के शवों को पूर्ण राजकीय सम्मान दिया जाएगा।

0Shares

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *