फिलिस्तीनी शरणार्थियों को सेवाएं देने में होगी मुश्किल: संयुक्त राष्ट्र एजेंसी

रामल्लाह, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र राहत एवं कार्य एजेंसी फॉर फिलीस्तीन रिफ्यूजीज इन नियर ईस्ट (यूएनआरडब्ल्यूए) को 2022 में शरणार्थियों को सेवाएं प्रदान करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि इसकी वजह ये है कि यह एजेंसी 6 करोड़ डॉलर के घाटे से जूझ रही है।

लेबनान में फिलिस्तीनियों के साथ काम करने वाले नागरिक समाज संस्थानों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ अपनी बैठक के दौरान यूएनआरडब्ल्यूए के आयुक्त-जनरल फिलिप लेजरिनी ने बुधवार को कहा, एजेंसी के लिए फंड उपलब्ध कराने के लिए लोगों की प्रतिबद्धता कम हो गई है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा कि वह एजेंसी के लिए फंड हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

इस बीच, प्रतिनिधिमंडल ने लेजरिनी को लेबनान में फिलिस्तीनी शरणार्थियों के सामने मानवीय चुनौतियों के बारे में बताया।

2017 में एजेंसी द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, लेबनान में यूएनआरडब्ल्यूए के साथ लगभग 463,664 फिलिस्तीनी शरणार्थी पंजीकृत हैं।

संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि उनमें से लगभग 65 प्रतिशत गरीबी से पीड़ित हैं, जबकि उनमें से 3 प्रतिशत अत्यधिक गरीबी में रहते हैं।

0Shares

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *